दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के निधन पर प्रदेश के नेताओं ने जताया शोक

0
20

भोपाल। दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस की वरिष्ठ नेत्री श्रीमती शीला दीक्षित के निधन पर प्रदेश के राजनेताओं ने भी शोक व्यक्त करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री कमल नाथ ने अपने  शोक संदेश में कहा कि नागरिक सुविधाओं की दृष्टि से नई दिल्ली का कायाकल्प करने में श्रीमती दीक्षित के योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि नागरिक मुद्दों के प्रति संवेदनशील श्रीमती दीक्षित गांधीवादी दर्शन और सिद्धांतों पर आधारित राजनीति की पक्षधर थी। वे संगठन क्षमता में पूर्ण दक्ष थीं। उन्होंने लंबे समय तक कांग्रेस पार्टी  की सेवा करते हुए विकास के लिए प्रतिबद्ध राजनीति की। मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की शांति और शोकाकुल परिजनों को यह दु:ख सहने की शक्ति देने की ईश्वर से प्रार्थना की है।

कांग्रेस के पूर्व महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया,पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह एवं अन्य नेताओं ने भी ट्वीट कर श्रीमती दीक्षित के निधन पर शोक जताया व उन्हें श्रद्धांजलि दी।

शीला दीक्षित एक दूरदर्शी राजनेता थी : राकेश सिंह

इधर, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद राकेश सिंह, प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत एवं नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने दिल्ली की पूव्र मुख्यमंत्री श्रीमती शीला दीक्षित के निधन पर शोक व्यक्त किया है और शोक संतप्त परिवार के प्रति गहन संवेदना व्यक्त की है। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने कहा कि श्रीमती शीला दीक्षित एक दूरदर्शी राजनेता थी। उन्होंने विभिन्न दायित्व पर रहकर जनसेवा की। मुख्यमंत्री के रूप में उन्होंने दिल्ली के विकास में जो योगदान दिया है वह अविस्मरणीय है। उनके निधन से एक सरल सहज राजनेता की क्षति हुई है। पार्टी के अन्य नेताओं ने भी श्रीमती दीक्षित के निधन पर शोक जताया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here