नेता प्रतिपक्ष ने न्यूज चैनलों की भूमिका पर कसा तंज तो कांग्रेस ने उठाए सवाल

0
9

भोपाल। विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भागज़्व ने टीवी न्यूज चैनल में पारिवारिक और निजी मामलों को दिखाए जाने पर रविवार को एक के बाद चार ट्वीट किए। भार्गव ने बिना किसी चैनल का नाम लिए उनकी मंशा पर भी सवाल उठाए। पहले ट्वीट में भार्गव ने कहा कि सोशल मीडिया और कथित राष्ट्रीय समाचार चैनल और उनके तनखैया एंकर टीआरपी बढ़ाने और रुपया कमाने की लालसा से एक आधुनिक लैला मजनू को दिखा रहे हैं। उनके दु:खी पिता और परिवार का मजाक बना रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि इस तरह की खबरों से कन्या भ्रूण हत्या की घटनाएं बढ़ेंगी। दूसरे ट्वीट में भार्गव ने लिखा है कि ‘मेरे निजी विचार से यह चैनल अपनी टीआरपी बढ़ाने और रुपया कमाने के चक्कर मे बहुत बड़ा समाज विरोधी एवं राष्ट्र विरोधी कार्य कर रहे हैं। उनके इस कृत्य से अब यह बात तय है कि देश मे पिछले एक दशक से चल रहा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ  की योजना एवं राष्ट्रीय अभियान 50 वर्ष पीछे चला जायेगा।Ó

तीसरे ट्वीट में लिखा है कि ‘मेरा मानना है कि ऐसी खबरों से अब कन्या भ्रूण हत्या की घटनाएं देश मे अप्रत्याशित रूप से बढ़ेंगी। महिला पुरुष के लिंगानुपात में भारी अंतर आएगा जो हमें अगले तीन वर्षों में सामाजिक सर्वे में स्पष्ट रूप से दिखेगा। नर्सिंग होम एवं निजी अस्पतालों में गभ्रपात का गौरखधंधा खूब फ लेगा फू लेगा।Ó

चौथे ट्वीट में भार्गव ने कहा है कि  ‘धन्य है ऐसे समाज सुधारक खबरिया एवं राष्ट्रीय समाचार चैनल और उनके एंकर। अब टीवी और मोबाइल भारतीय परिवारों के लिए अभिशाप बनते जा रहे हैं। समय रहते समझदार लोग इस अभिशाप से मुक्ति पाएं तो परिवार सुखी रहेगा।Ó भार्गव ने यह ट्वीट किस मामले के परिपेक्ष्य में किया है यह स्पष्ट नहीं है। हालांकि, पिछले एक हफ्ते से उत्तरप्रदेश के बरेली में भाजपा विधायक की बेटी साक्षी का मामला चर्चा में है।

कांग्रेस ने उठाए सवाल

इधर,नेता प्रतिपक्ष के उक्त बयान को लेकर कांग्रेस ने सवाल उठाए। मध्यप्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग की अध्यक्ष  शोभा ओझा ने कहा कि नेता प्रतिपक्ष के बयानों से साफ है,कि  ”बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओÓÓ का नारा देने वाली भाजपा का असली ‘चाल, चरित्र और चेहराÓ क्या है? कन्या भ्रूण हत्या व लिंगानुपात को लेकर भार्गव का बयान बेहद आपत्तिजनक, महिला विरोधी और उकसाऊ है। वहीं मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष के मीडिया समन्वयक नरेन्द्र सलूजा ने कहा,कि नेता प्रतिपक्ष की सोच व विचार को प्रगतिवादी सोच से परे फ ासिस्ट व संकीर्ण विचारधारा क ा पोषक बताते हुए इसकी निंदा की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here